समाचार
राजस्थान में पहला सरकारी गौरक्षा सम्मेलन, गौशालाओं के प्रतिनिधि देंगे सुझाव

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 2 मार्च को जयपुर में गौरक्षा सम्मेलन आयोजितलकरने का निर्णय लिया है। यह सम्मलेन जयपुर के सीतापुरा क्षेत्र के जेईसीसी में 2 मार्च को आयोजित किया जाएगा। इस सम्मलेन में प्रत्येक गौशाला से 2-2 प्रतिनिधि भाग लेंगे और वे गौरक्षा से संबंधित सुझाव देंगे।

भाजपा पर गाय के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाने वाली कांग्रेस सरकार इस बार स्वयं गायों की रक्षा में उतरी है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विशेष रूप से भाजपा के खिलाफ गाय संबंधित बयान देते हैं लेकिन इस बार वे खुद इसके समर्थन में खड़े हुए हैं।

राज्य में यह पहला सरकारी गौ सम्मेलन होगा जो कि कांग्रेस सरकार द्वारा आयोजित किया जाएगा। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपने कार्यकाल में प्रदेश में अलग से गौ पालन मंत्रालय बनाकर राज्यमंत्री को इसका प्रभार दिया था जिसे अब अशोक गहलोत आगे बढ़ा रहे हैं। अशोक गहलोत ने इस मंत्रालय का प्रभार प्रमोद जैन को दिया है।

पूरे राज्य में लगभग 2673 पंजीकृत गोशालाएँ हैं जिसमे से 2-2 प्रतिनिधि इस गौ सुरक्षा सम्मलेन में भाग लेंगे।