समाचार
बिहार चुनाव में ओवैसी ने बसपा, रालोसपा के लिए माँगे वोट, कहा- “औकात बताने आए”

बिहार के शेरघाटी विधानसभा क्षेत्र में सोमवार (26 अक्टूबर) को चुनावी सभा के दौरान ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, “मैं किसी आवाम का मोहताज नहीं बल्कि सियासी दल इसके मोहताज हैं। आज तक आपने वोट देना सीखा है, अब वोट लेना सीखिए।”

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, “हमारा गठबंधन छह पार्टियों का है। रालोसपा के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा हमारे मुख्यमंत्री का चेहरा हैं। बसपा, रालोसपा सब अपने हैं। इन्हें कीमती वोट देकर अपनी ताकत का एहसास कराएँ।”

ओवैसी ने कहा, “15 साल बिहार ने एक परिवार को वोट दिया। शेष 15 साल नीतीश कुमार को वोट दिया। हालात आप से छुपे नहीं हैं। राजद, कांग्रेस और जदयू गठबंधन ने आप सबको धोखा दिया है। उनसे पूछिए कि उन्होंने ऐसा क्यों किया। हम बिहार में वोट मांगने नहीं अपनी औकात बताने आए हैं। आप को नेता बनाने आए हैं। बाबा साहब अंबेडकर ने जो संविधान के आर्टिकल के तहत आपको अधिकार दिया है, उसके अंतर्गत वोट लेना सीखो।”

प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए एआईएमआईएम अध्यक्ष ने कहा, “नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन के नाम पर युवाओं का रोज़गार छीनकर उन्हें बर्बाद कर दिया। पहले आठ दिन, फिर 21 दिन और कई महीने। उन्हें बिना काम किए आधे पेट जीवन यापन करना पड़ा। अब तक भारत की आर्थिक स्थिति पटरी पर नहीं आ पाई है।”