समाचार
अरुण जेटली की हालत गंभीर, वेंटीलेटर से हटाकर लाइफ सपोर्ट पर रखा गया

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है। उन्हें लाइफ सपोर्ट पर रखा गया है। उनकी सेहत जानने के लिए कई बड़े नेता अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पहुँच रहे हैं।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, शनिवार को उन्हें वेंटिलेटर से हटाकर ईसीएमओ यानी एक्सट्राकॉर्पोरियल मेंब्रेन ऑक्सीजिनेशन पर रखा गया है, जिसे लाइफ सपोर्ट भी कहा जाता है। इसमें मरीज को तब रखा जाता है, जब दिल और फेफड़े ठीक से काम नहीं करते हैं। इससे मरीज के शरीर में ऑक्सीजन पहुँचाई जाती है।

अरुण जेटली को 9 अगस्त को नाश्ते के दौरान अचानक सांस लेने में तकलीफ हुई थी। इसके बाद उन्हें एम्स में भर्ती करवाया गया था। शुरू में डॉक्टरों ने सामान्य जाँच प्रक्रिया बताई थी लेकिन जाँच रिपोर्ट सामने आने पर पता चला कि उनके फेफड़ों में पानी भर गया है।

गृहमंत्री अमित शाह शुक्रवार देर रात पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का हाल-चाल जानने एम्स पहुँचे थे। कहा जा रहा है कि वह शनिवार को भी उनकी सेहत जानने पहुँचेंगे। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री व बसपा प्रमुख मायावती ने जेटली के स्वास्थ्य की जानकारी ली। शनिवार सुबह केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह हाल-चाल लेने अस्पताल पहुँचे थे।

एम्स के एक वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया, “पूर्व वित्त मंत्री के स्वास्थ्य की निगरानी के लिए एम्स की टीम 24 घंटे लगी हुई है। पल्मोनरी, हार्ट, नेफ्रोलॉजी, एंडोक्रोनोलॉजी सहित 5 विभागों के वरिष्ठ डॉक्टरों की टीम इलाज कर रही है। उन्हें जल्द से जल्द स्वस्थ करने की हरसंभव कोशिश की जा रही है।”