समाचार
अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, कर्तव्यों से मुक्त करने का किया अनुरोध

पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अनुरोध किया कि उन्हें आगामी एनडीए सरकार से बाहर रखा जाए। ऐसा इसलिए ताकि वह अपने स्वास्थ्य और बीमारी के इलाज पर ध्यान दे सकें।

पत्र में जेटली ने लिखा, “पिछले पाँच वर्षों के लिए एनडीए सरकार का हिस्सा होना मेरे लिए सम्मान की बात थी। पिछले 18 माहों की गंभीर स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का हवाला देते हुए उन्होंने कहा, “भविष्य में सरकारी कर्तव्यों से मुक्त करने के अपने फैसले के बारे में मैंने प्रधानमंत्री को मौखिक रूप से सूचित कर दिया था। यह बातचीत नरेंद्र मोदी के केदारनाथ यात्रा पर रवाना होने से पहले हुई थी।”

जेटली ने अनुरोध किया कि उन्हें अपने स्वास्थ्य और उपचार पर ध्यान केंद्रित करने के लिए उचित समय की अनुमति दी जाए। उन्होंने कहा, “मैं वर्तमान सरकार में किसी भी जिम्मेदारी का हिस्सा नहीं बन पाऊँगा। हालाँकि, मैं अनौपचारिक रूप से सरकार और अपनी पार्टी के लिए उतना ही योगदान दूँगा, जितना पहले देता आया हूँ।”