समाचार
अर्णब गोस्वामी ने बॉम्बे उच्च न्यायालय के आदेश को सर्वोच्च न्यायालय में चुनौती दी

रिपब्लिक टीवी के मुख्य संपादक अर्णब गोस्वामी ने मंगलवार (10 नवंबर) को बॉम्बे उच्च न्यायालय के आदेश को सर्वोच्च न्यायालय में चुनौती दी है। उच्च न्यायालय ने 2018 के आत्महत्या के मामले में अर्णब को अंतरिम जमानत देने से मना कर दिया था।

रिपब्लिक टीवी के एक न्यूज़ एंकर ने देश के मुख्य न्यायाधीश एसएस बोबड़े को पत्र लिखकर उनसे अनुरोध किया कि अर्णब गोस्वामी को तलोजा जेल में अंडरवर्ल्ड के अपराधियों के साथ रखे जाने के कदम का संज्ञान लिया जाए।

उन्होंने कहा, “अर्णब ने कहा कि मुझसे मारपीट की गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ विचार व्यक्त करने के कारण अर्णब का उत्पीड़न किया गया और उनके साथ मारपीट की गई।”

गोस्वामी के अलावा अन्य आरोपी फिरोज शेख और नितीश सरदा ने अवैध गिरफ्तारी को चुनौती देते हुए अंतरिम जमानत की मांग की थी। अर्णब को मुंबई स्थित उनके आवास से रायगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उन्हें न्यायालय से 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था।