समाचार
पाकिस्तान को जवानों की शहादत का करारा जवाब देने का थल सेना प्रमुख ने दिया भरोसा

कोविड-19 महामारी के संकट काल के बावजूद पाकिस्तान आतंकवादियों की भारत में घुसपैठ कराने और कश्मीर घाटी में गड़बड़ी पैदा करने से बाज नहीं आ रहा है। इस पर भारतीय थल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने फटकार लगाते हुए कहा, “पड़ोसी देश अब भी भारत में आतंकवादियों को धकेलने के अपने अदूरदर्शी और तुच्छ एजेंडे पर काम कर रहा है।”

जनरल नरवणे ने चेतावनी देते हुए कहा, “पाकिस्तान प्रायोजित आतंकियों के साथ उत्तरी कश्मीर के हंदवाड़ा में मुठभेड़ के दौरान हम अपने पाँच सुरक्षाकर्मी खो चुके हैं। हम उनके इस हमले का जोरदार जवाब देंगे।”

पीटीआई ने उनके हवाले से कहा, “मैं इस बात पर जोर देना चाहूँगा कि भारतीय सेना संघर्ष विराम के उल्लंघन और आतंकवाद के समर्थन के सभी नापाक कृत्यों का उचित जवाब देगी। अब क्षेत्र में शांति बहाल करने की ज़िम्मेदारी पड़ोसी देश पर है।”

“अब जब तक पाकिस्तान आतंकवाद की अपनी नीति नहीं छोड़ता है, तब तक हम उचित और करारा जवाब देना जारी रखेंगे।” जनरल नरवणे की चेतावनी तब आई, जब हाल ही में जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को घुसपैठ में मदद कराने के लिए नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तान ने संघर्ष विराम उल्लंघन अचनाक तेज़ कर दिए।