समाचार
नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पुनर्विकास परियोजना के लिए 9 कंपनियों ने बोली लगाईं

नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पुनर्विकास परियोजना के लिए 9 कंपनियों अरेबियन कंस्ट्रक्शन कंपनी, अडानी रेलवे ट्रांसपोर्ट, बीआईएफ चार इंडिया इंफ्रास्ट्रक्चर होल्डिंग (डीआईएफसी), आईएसक्यू एशिया इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट्स,एंकरेज इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट्स होल्डिंग्स लिमिटेड, कल्पतरू पावर ट्रांसमिशन लिमिटेड, जीएमटी हाईवेज लिमिटेड, ओमैक्स लिमिटेड और एल्पिस वेंचर्स ने बोली लगाई हैं।

हिंदू बिज़नेसलाइन की रिपोर्ट के अनुसार, कथित तौर पर ये बोलियाँ मंगलवार (2 फरवरी) की देर रात को प्राप्त हुई थीं। अगले चरण में रेल भूमि विकास प्राधिकरण (आरएलडीए) चुनी गई कंपनियों के लिए अनुरोध प्रस्ताव (आरएफपी) निकालेगा, जो तकनीकी प्रक्रिया से गुजरेगा।

आरएलडीए ने एक बयान में कहा, “नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पुनर्विकास आरएलडीए की एक प्रमुख परियोजना है। यह दिल्ली एनसीआर में ट्रांजिट-ओरिएंटेड डेवलपमेंट (टीओडी) अवधारणा पर विकसित होने वाली पहली परियोजना होगी।”

स्टेशन को 68 करोड़ डॉलर की लागत के साथ 60 वर्ष की रियायत अवधि के लिए विकसित किया जाएगा, जो डिजाइन निर्माण वित्त परिचालन स्थानांतरण (डीबीएफओटी) मॉडल पर बनेगा।

दिल्ली के उपराज्यपाल की अध्यक्षता में एक सर्वोच्च समिति का गठन किया गया है, जो परियोजना के लिए अनुमति और स्वीकृति में तेजी लाएगी। मास्टर प्लान क्षेत्र में लगभग 120 हेक्टेयर भूमि शामिल है और परियोजना के पहले चरण में 88 हेक्टेयर की योजना बनाई जा रही है।