समाचार
एंटिगुआ के प्रधानमंत्री ने मेहुल चोकसी को “धोखेबाज़” कह भारत को सौंपने के दिए संकेत

पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी को एंटिगुआ और बारबूडा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने “धोखेबाज़” बताया है। ब्राउन ने जल्दी ही भारत के हाथों चोकसी को सौंप देने की बात कही है। उन्होंने कहा कि चोकसी को एंटिगुआ और बारबूडा में रखने की उनकी कोई इच्छा नहीं है।

द टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, एंटिगुआ के न्यायालय में चोकसी से संबंधित मामला खत्म होते ही एंटिगुआ सरकार भारत को चोकसी का प्रत्यर्पण कर देगी। एंटिगुआ के प्रधानमंत्री ब्राउन ने कहा, “भारत की जाँच एजेंसी चोकसी से पूछताछ करने के लिए स्वतंत्र हैं, हम उनका सहयोग करेंगे।”

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, प्रधानमंत्री ब्राउन ने यह भी बताया कि चोकसी की वजह से कैसे उनके सिटिजनशिप बाय इनवेस्टमेंट कार्यक्रम को नुकसान पहुँचा है। चोकसी ने इसी कार्यक्रम का उपयोग कर एंटीगुआ की नागरिकता ले ली थी। उन्होंने कहा कि भारतीय अधिकारियों ने हमें समय पर सूचित नहीं किया है लेकिन हम स्पष्ट हैं कि उन्हें वापस जाना होगा।

गौरतलब है कि चोकसी और उसका भांजा नीरव मोदी साल भर पहले देश छोड़कर भाग गए थे। दोनों 13,500 करोड़ रुपये के पीएनबी धोखाधड़ी मामले में मुख्य आरोपी हैं। चोकसी को एंटिगुआ और बारबूडा ने इस साल के प्रारंभ में नागरिकता दे दी थी।