समाचार
हम्पी में फिर एक पर्यटक ने विश्व विरासत स्थल को पहुँचाया नुकसान, गिरफ्तार

बल्लारी जिले के हम्पी में स्थित यूनेस्को विश्व विरासत स्थल पर एक ऐतिहासिक स्मारक को नुकसान पहुँचाने के आरोप में पुलिस ने बेंगलुरु से एक पर्यटक को गिरफ्तार कर लिया। एक माह में इस तरह की यह दूसरी घटना है।

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, बेंगलुरु के आवलाहल्ली का 45 वर्षीय नागराज अपने दोस्तों के साथ हम्पी घूमने आया था। वहाँ विजया विट्ठला मंदिर के ऐतिहासिक धरोहर स्थल के बाहर उसने सल्लू मंतपा में दो खंभों को गिरा दिया।

पुलिस के मुताबिक, आरोपी को लगा कि खंभे लावारिस हैं और वह उन्हें जमीन पर धकेल सकता है। हालिया बारिश की वजह से ऐतिहासिक धरोहरों को संरक्षित धरोहर स्थल पर रखने वाली भूमि खराब हो गई थी।

नागराज ने बताया, “उसने एक खंभे को धकेल दिया था, जिससे वह एक और खंभे से टकरा गया और वे ज़मीन पर गिर पड़े।” भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के चौकीदार ने इस हरकत को देखने के बाद पुलिस को सूचित किया।

आरोपी पर प्राचीन स्मारक, पुरातत्व स्थल और अवशेष अधिनियम 1958 की धारा 30 के तहत मामला दर्ज किया गया। पिछले कुछ महीनों में हम्पी में यह दूसरी घटना है। साल के शुरुआत में पर्यटकों के एक समूह ने हम्पी में खंभों को तोड़ दिया था और घटना का एक इंस्टाग्राम वीडियो भी पोस्ट किया था।

वीडियो में पाँच बदमाशों में से एक को पत्थर के खंभों को ज़मीन पर धकेलते हुए देखा जा सकता है, जिसमें तीन साथी उसके कृत्य को बढ़ावा दे रहे थे। वीडियो वायरल होने के बाद लोगों में गुस्सा फैल गया, जिसके बाद आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था।