समाचार
सरकारी कर्मचारियों को वाउचर से “28,000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त उपभोक्ता माँग”

जीएसटी परिषद की 43वीं बैठक से पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को प्रेस वार्ता में सरकारी कर्मचारियों के लिए त्यौहार एडवांस के रूप में 10,000 रुपये देने की घोषणा की। साथ ही एलटीसी कैश वाउचर की भी घोषणा की है। इसका उद्देश्य अर्थव्यवस्था में माँग बढ़ाने के लिए है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, केंद्र सरकार इस योजना के तहत अपने सभी पद और श्रेणी के कर्मचारियों को 10,000 रुपये का प्रीपेड रुपे कार्ड देगी। इसका उपयोग 31 मार्च 2021 तक किसी भी त्यौहार में किया जा सकेगा।

12,000 करोड़ रुपये के पूंजी व्यय के लिए 50 वर्ष के ब्याज मुक्त लोन की घोषणा की। इसमें पूर्वोत्तर के राज्यों के लिए 1,600 करोड़ रुपये और उत्तराखंड व हिमाचल के लिए 900 करोड़ रुपये का प्रावधान है। योजना के तहत 7,500 करोड़ रुपये का प्रावधान अन्य राज्यों के लिए है।

एलटीसी कैश वाउचर के तहत कर्मचारी यात्रा के लिए रिम्बर्समेंट की बजाय कैश क्लेम कर सकते हैं। इसका उपयोग 31 मार्च 2021 से पूर्व सामानों की खरीद, यात्रा टिकट के तीन गुना के बराबर एसवीसीएस के लिए किया जा सकेगा। वे एक बार छुट्टी के बदले पैसे का लाभ भी उठा सकते हैं। उचित भुगतान कर मुक्त होगा।

वित्त मंत्री ने कहा, “एलटीसी कैश वाउचर योजना से 28,000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त उपभोक्ता माँग पैदा होगी। कोविड काल में सरकारी कर्मचारियों पर आर्थिक तनाव नहीं पड़ा है। उनकी बचत में वृद्धि हुई है। ऐसे में उपभोक्ता मांग बढ़ाने के लिए यात्रा अवकाश भत्ता का नकद वाउचर दिया जाएगा।”