समाचार
भाजपा के पीछे तृणमूल? अमित शाह की रैली के निकट गाड़ियों से तोड़-फोड़, आगजनी

पश्चिम बंगाल में रैलियों का आयोजन करने में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवार (29 जनवरी) को पार्टी ने तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) पर आरोप लगाते हुए कहा है कि अमित शाह की रैली के निकट लगाई गई कई गाड़ियों में तोड़-फोड़ की गई थी व बाइकों में आग भी लगाई गई थी।

भाजपा के पश्चिम बंगाल सचिव ने तृणमूल पर कटाक्ष करते हुए कहा है, “टीएमसी हमरी शक्ति से डरती है, इसलिए उन्होंने हिंसा का प्रयोग किया है।” भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या पर प्रश्न उठाते हुए कहा है कि उन्हें इसलिए मारा गया क्योंकि उन्होंने सत्ताधारी पार्टी के भ्रष्टाचार का विरोध किया था। शाह ने यह बी कहा कि 2019 के चुनावों में ‘शोनार बांग्ला’ को पिर से स्थापित किया जाएगा।

वर्तमान में बाजपा ‘गणतंत्र बचाओ’ रैली का आयोजन कर रही है। “भाजपा कार्यकर्ता घर-घर पहुँचकर राज्य में लोकतंत्र स्थापित करेंगे।”, शाह ने न्यूज़ 18 से कहा।

भाजपा के इन आरोपों को नकारते हुए तृणमूल ने कहा है कि ये हिंसा भाजपा द्वारा ही की गई है।