समाचार
अमित शाह बोले, “2024 में वोट मांगने से पहले देशभर में एनआरसी लागू किया जाएगा”

झारखंड में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए सोमवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, “मैं जब 2024 में वोट मांगने आऊँगा, उससे पहले ही देश में एनआरसी (नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन) लागू करके घुसपैठियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया जाएगा।”

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, चक्रधरपुर और बहरागोड़ा में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “राहुल गांधी कहते हैं कि एनआरसी क्यों ला रहे हो? उनको क्यों निकाल रहे हो। मैं जानना चाहता हूँ कि क्या यह आपके चचेरे भाई लगते हैं? हेमंत और विपक्ष सिर्फ सत्ता पाना चाहते हैं, जबकि भाजपा झारखंड को विकास की राह पर ले जाना चाहती है।”

अमित शाह ने कहा, “कांग्रेसी नेता सर्वोच्च न्यायालय में जाकर कहते थे कि रामजन्म भूमि का मुकदमा चलाने की जरूरत नहीं है। हमने आग्रह किया कि मामला चलना चाहिए। अब परिणाम राम जन्मभूमि के पक्ष में ही आ गया है।”

उन्होंने कहा, “मैं जानता था कि झारखंड चाहता है कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बने और आतंकवाद खत्म हो। नक्सलवाद खत्म हो। झारखंड की जनता ने कई सरकारें देखीं लेकिन अब तक विकास के दर्शन नहीं किए। 2014 में रघुवर दास मुख्यमंत्री बने और राज्य विकास के रास्ते पर चला। भाजपा सरकार आदिवासियों के धर्म परिवर्तन को रोकने के लिए कानून लेकर आई है।”

गृह मंत्री ने आगे कहा, “मैं राहुल गांधी को चुनौती देता हूँ कि वह आएँ और अपने 55 साल और हमारे 5 साल के शासन का हिसाब लेकर परिणाम निकाल लें। भाजपा ने विकास की गंगा को आदिवासी दलित समाज के घर पहुँचाने का काम किया है।” बता दें कि झारखंड में विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान 7 दिसंबर को 20 सीटों पर होने हैं।