समाचार
अमित शाह ने दिशा की गिरफ्तारी पर कहा, “अपराधी का पेशा या उम्र नहीं पूछने चाहिए”

किसान आंदोलन से जुड़े टूलकिट मामले में गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार (19 फरवरी) को पहली बार दिशा रवि की गिरफ्तारी पर चुप्पी तोड़ते हुए कहा, “किसी भी अपराधी की उम्र नहीं देखनी चाहिए। अगर कोई व्यक्ति अपराध करता है तो उसकी उम्र या पेशा नहीं पूछना चाहिए। ऐसा करना गलत है।”

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, अमित शाह ने कोलकाता में दिल्ली पुलिस की कार्रवाई का बचाव करते हुए कहा, “पुलिस इस मामले में पूरी ज़िम्मेदारी से काम कर रही है। अगर कल कोई व्यक्ति बड़ा अपराध करता है तो क्या यह कहा जाएगा कि क्यों किसान, प्रोफेसर और नेताओं पर मामला दर्ज हुआ है।”

उन्होंने कहा, “लिंग, पेशा या उम्र के आधार पर अपराध दर्ज नहीं किया जाएगा। अगर आपके खिलाफ गलत मामला दर्ज हुआ है तो आप न्यायालय जा सकते हैं। 21 वर्ष के तमाम लोग हैं लेकिन दिशा रवि को ही क्यों गिरफ्तार किया गया। दिल्ली पुलिस नियमानुसार काम कर रही है। न्यायालय खुली है और वहाँ चले जाना चाहिए।”

गृह मंत्री ने कहा, “कानूनी मामलों के खिलाफ सवाल उठाने का आजकल नया फैशन चल गया है। मीडिया भी इसके पीछे-पीछे चल रही है। इस तरह की चीज़ों से बचना चाहिए।” बता दें कि अमित शाह वर्तमान में पश्चिम बंगाल में पाँचवीं परिवर्तन यात्रा में व्यस्त हैं। वे वहाँ पर कई रैलियों को संबोधित कर रहे हैं।