समाचार
पिछले वर्ष की तुलना में भारत के घरेलू हवाई यात्रियों में 8.9 प्रतिशत की वृद्धि

विमानन क्षेत्र में वैश्विक मंदी के बीच भारत ने बेहतरीन प्रदर्शन जारी रखते हुए पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष जुलाई के महीने में घरेलू हवाई यात्रियों में 8.9 प्रतिशत की शानदार वृद्धि हासिल की है।

लाइवमिंट की रिपोर्ट के अनुसार, इस अच्छी खबर के साथ जुलाई में आरपीके (राजस्व यात्री किलोमीटर) का आंकड़ा जून के पूर्ववर्ती महीने में 8.2 प्रतिशत से बढ़कर 8.9 प्रतिशत हो गया। यह आँकड़ा यात्रियों की संख्या से कई गुना यात्रियों द्वारा यात्रा किए गए किमी की संख्या से निकलकर आया है। इसमें वैश्विक विकास दर 3.6 प्रतिशत कम रही।

अंतर-राष्ट्रीय एयरलाइंस संस्था आईएटीए ने वृद्धि पर टिप्पणी करते हुए कहा, “बाजार अभी तक दोहरे अंकों की विकास दरों पर नहीं लौटा है, जो पिछले 4-5 वर्षों में आदर्श थी। फिर भी इस बार के आँकड़े जेट एयरवेज के बंद होने के बावजूद सकारात्मक नजर आ रहे हैं। इसकी क्षमता भी पटरी पर लौट आई है (जुलाई में 7.1 प्रतिशत वर्ष-दर-वर्ष बनाम जून में 3.4 प्रतिशत)।

इस बीच चीनी विमानन क्षेत्र के लिए घरेलू यात्री बाजार की वृद्धि ने जुलाई में एक साल पहले की तुलना में 11.7 प्रतिशत की और भी प्रभावशाली वृद्धि दर्ज की।