समाचार
अमेरिका चीनी बाधा के बावजूद ताइवान को 7.5 लाख कोविड वैक्सीन खुराक दान करेगा

अमेरिका ने घोषणा की है कि वह ताइवान को कोविड-19 वैक्सीन की 7.5 लाख खुराक दान करेगा। अमेरिकी सांसद टैमी डकवर्थ ने रविवार को ताइपे के सोंगशान हवाई अड्डे पर साथी सांसदों डैन सुलिवन और क्रिस्टोफर कॉन्स के साथ एक संक्षिप्त यात्रा पर पहुँचने के बाद यह घोषणा की।

डकवर्थ ने अमेरिकी सैन्य परिवहन विमान से उतरने के बाद हवाई अड्डे पर कहा, “मैं यहाँ बताने के लिए आई हूँ कि अमेरिका आपको अकेला नहीं छोड़ेगा। हम यह सुनिश्चित करने के लिए आपकी तरफ से होंगे कि ताइवान के लोगों के पास वह है, जो उन्हें महामारी के दूसरी तरफ और उससे दूर ले जाने के लिए आवश्यक है।”

यह द्वीप देश कोरोना संक्रमण में वृद्धि को नियंत्रित करने के लिए संघर्ष कर रहा है। 2.35 करोड़ ताइवान के नागरिकों में से सिर्फ 3.2 प्रतिशत को ही वैक्सीन की पहली खुराक मिली है। उसने चीन पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वैक्सीन की खुराक सुरक्षित करने के अपने प्रयासों को विफल करने का आरोप लगाया है।

शुक्रवार को चीन के विदेश मंत्रालय ने 12 लाख खुराक के दान के लिए जापान की आलोचना की। जापान ने ताइवान को एस्ट्रोजेनेका वैक्सीन की करीब 12 लाख खुराक दी थीं। दान किए गए टीके ताइवान के संघर्षरत टीकाकरण अभियान को बड़ा बढ़ावा देंगे।

चीन ने ताइवान को चीनी निर्मित टीकों की पेशकश की है लेकिन सरकार ने बार-बार उनकी सुरक्षा के बारे में चिंता व्यक्त की है। दरअसल, किसी भी मामले में उन्हें ताइवान के कानून को बदले बिना आयात नहीं किया जा सकता है, जो उनके आयात पर प्रतिबंध लगाता है।