समाचार
पाकिस्तान में कार्टून को लेकर हिंसा में 7 मरे, फ्रांस की कंपनियों को देश छोड़ने की सलाह

गत वर्ष फ्रांस की मैग्ज़ीन में छपे पैगंबर मोहम्मद के कार्टून के विरोध में पाकिस्तान में हिंसा बढ़ गई है। कट्टर इस्लामी समर्थकों के विरोध प्रदर्शन के बीच अब तक वहाँ सात लोगों की मौत हो चुकी है और सैकड़ों लोग घायल हो चुके हैं।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान में बढ़ती हिंसा के बीच फ्रांस ने अपने लोगों व कंपनियों को जल्द वहाँ से निकलने की सलाह दी है। उसका कहना है कि फ्रांसीसी नागरिकों और कंपनियों को कुछ दिन के लिए पाकिस्तान से निकल जाना चाहिए क्योंकि वहाँ की स्थिति पेरिस के हितों के लिए खतरनाक हैं।

इस्लामिक पार्टी तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) ने पैगंबर मोहम्मद का कार्टून प्रकाशित करने के लिए फ्रांस के राजदूत को निष्कासित करने का इमरान खान सरकार को 20 अप्रैल तक का समय दिया था। हालाँकि, उससे पूर्व ही पुलिस ने पार्टी प्रमुख साद हुसैन रिज़वी को गिरफ्तार कर लिया। इसको लेकर टीएलपी ने देशव्यापी विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया।

विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा में अब तक 300 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो चुके हैं। सड़कों पर लोगों की भारी भीड़ नज़र आ रही है। सोशल मीडिया पर भी यह मुद्दा जोर पकड़ रहा है।