समाचार
कच्चे माल की आपूर्ति पर अमेरिका बोला- “भारत की ज़रूरतें समझते हैं, करेंगे विचार”

अमेरिका ने कोविड-19 वैक्सीन को बनाने में उपयोग किए जाने वाले आवश्यक कच्चे माल की आपूर्ति पर रोक को लेकर कहा, “हम भारत की आवश्यकताओं को समझते हैं और इस मामले पर विचार करेंगे।”

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका में राष्ट्रपति जो बाइडन के नेतृत्व वाली सरकार ने यह भी माना कि घरेलू कंपनियों की ओर से पहले अपने नागरिकों को प्राथमिकता दिए जाने की नीति के तहत ऐसा हुआ है।

जो बाइडन से पहले पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोना संकट के बाद रक्षा उत्पादन अधिनियम लागू कर दिया था। इसके चलते उनके देश की कंपनियों को पहली अपनी आवश्यकताओं पर ध्यान केंद्रित करना पड़ा। वहाँ फाइज़र और मॉडर्ना वैक्सीन उत्पादन कर रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि अमेरिका में 4 जुलाई तक पूरी आबादी को टीका लग जाएगा।

बता दें कि हाल ही में सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने जो बाइडन को ट्वीट करके कच्चे माल के निर्यात पर प्रतिबंध हटाने की मांग की थी, ताकि भारत में अधिक से अधिक वैक्सीन की खुराकें तैयार की जा सकें।