समाचार
सर्वोच्च न्यायालय ने आलोक वर्मा को लौटाया सीबीआई का पद, समिति करेगी फैसला

केंद्र द्वारा छुट्टी पर भेजे जा रहे आलोक वर्मा की याचिका पर सुनवाई करते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने मंगलवार (8 जनवरी) को उनके पक्ष में निर्णय सुनाया है। आलोक पुनः सीबीआई निदेशक का पद धारण करेंगे। हालाँकि कोई भी प्रमुख नीतिगत निर्णय लेने का अधिकार उन्हें अभी नहीं दिया गया है।

सुनवाई के दौरान न्यायालय ने कहा कि आलोक वर्मा के विरुद्ध किसी भी प्रकार की कार्यवाही के लिए प्रधानमंत्री, मुख्य न्यायाधीश और विपक्ष के नेता की चयन समिति के समक्ष प्रस्ताव रखना होगा।

इससे पहले निदेशक आलोक कुमार वर्मा और विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के बीच मतभेद सार्वजनिक होने के बाद सरकार ने 23 अक्टूबर को दोनों अधिकारियों को उनके अधिकारों से वंचित कर अवकाश पर भेजने का निर्णय लिया था। दोनों अधिकारियों ने एक दूसरे पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे।

इसके साथ ही संयुक्त निदेशक एम. नागेश्वर राव को सीबीआई के निदेशक पद का अस्थाई कार्यभार सौंप दिया था। वर्मा का सीबीआई निदेशक के रूप में दो साल का कार्यकाल 31 जनवरी को पूरा हो रहा है।