समाचार
इलाहाबाद विश्वविद्यालय नहीं जाने दिया अखिलेश को, सपा समर्थकों ने किया विरोध

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव को मंगलवार (12 फरवरी) की सुबह लखनऊ हवाई अड्डे पर जहाज़ में बैठने से रोक लिया गया। अखिलेश यादव द्वारा ट्वीट की गई तस्वीरों से यह दिख रहा है कि एक पुलिस कर्मचारी जहाज़ के द्वार पर खड़ा हुआ है और अखिलेश यादव को जहाज़ में जाने से रोक रहा है, वहीं दूसरी तस्वीर में अखिलेश यादव पुलिस से बहस करते दिख रहे हैं।

अखिलेश यादव को प्रयागराज के इलाहबाद विश्वविद्यालय में हो रहे कार्यक्रम में उपस्थित होना था जिसके लिए वह मंगलवार की सुबह लखनऊ हवाईअड्डे पर गए थे। इलाहबाद विश्वविद्यालय ने हालाँकि बीती रात अखिलेश यादव के सचिव को यह बताया था के समारोह में कोई भी राजनीतिज्ञ के आने की अनुमति नहीं है।

अखिलेश यादव का कहना है कि “सरकार एक छात्र नेता के शपथग्रहण समारोह से डरती है और इसलिए वह मुझे इलाहबाद जाने से रोक रही है”। इस पर योगी आदित्यनाथ ने भी अपना जवाब दिया और कहा है कि “समाजवादी पार्टी को अपनी नकारात्मक गतिविधियों से दूर रहना चाहिए, प्रयागराज में अभी कुंभ मेला चल रहा है और अखिलेश यादव की मौजूदगी से वहाँ अराजकता हो सकती है इसलिए अखिलेश को वहाँ जाने से रोका गया है”।

इस घटना के बाग सपा समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन किया जिसमें पुलिस ने भीड़ हटाने का प्रयास किया जिसके बाद प्रदर्शनकारी उग्र होकर पत्थरबाज़ी व तोड़-फोड़ करने लगे। इसी बीच पुलिस की जवाबी कार्यवाही में सांसद धर्मेंद्र यादव के सर पर चोट आई है।