समाचार
अकाली दल ने ननकाना साहिब हादसे पर सिद्धू की चुप्पी को लेकर सवाल उठाए
आईएएनएस - 7th January 2020

रविवार (5 जनवरी) को शिरोमणि अकाली दल ने सिखों पर नफरत के साथ हमले एवं पाकिस्तान स्थित ननकाना साहिब में हुए हमले पर कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू की चुप्पी पर सवाल उठाए हैं।

अकाली दल की ओर से कहा गया है कि सिद्धू ने न केवल पाकिस्तानी सेना और आईएसआई के लिए अपने प्यार पर विश्वास किया, बल्कि यह भी साबित किया कि वह अपने देश और अपने समुदाय के प्रति ईमानदार नहीं थे।

अपने एक बयान में पूर्व मंत्री महेशिंदर सिंह ग्रेवाल ने कहा, “यह स्पष्ट है कि सिद्धू ने अपनी आत्मा पाकिस्तान सैन्य प्रतिष्ठान को बेच दी है और इसका उपयोग आईएसआई द्वारा भारत विरोधी योजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए किया जा रहा है।”

“यही कारण है कि वह आईएसआई का मुखपत्र बन गया है और यहाँ तक ​​कि अपने भाइयों और पाकिस्तान में उनकी पीड़ा के खिलाफ हो गया है।”, अकाली नेता ग्रेवाल ने कहा।

पाकिस्तान में एक नाबालिग सिख लड़की के जबरन धर्म परिवर्तन और उसके बाद के घटनाक्रमों के कारण पीड़ित परिवार को जान का खतरा बना हुआ है, गुरुद्वारा जन्म स्थान पर पत्थर मारना और इतना ही नहीं ननकाना साहिब के पवित्र शहर का नाम बदलने की धमकी देने पर सिद्धू से उनकी चुप्पी को समझाने की मांग करतेेेेे हुए अकाली दल नेता ने कहा, “यह अकेले साबित करता है कि आपकी निष्ठा कहाँ है।”

ग्रेवाल ने कहा कि दुनिया भर में कोई भी सिख, समुदाय के सदस्यों के जबरन धर्मांतरण और उसके सबसे पवित्र मंदिरों पर पत्थरबाजी कभी भी बर्दाश्त नहीं कर सकता।

उन्होंने कहा, “इसी तरह, वे सिद्धू जैसे लोगों को कभी माफ नहीं करेंगे जो पाकिस्तान में अपने दोस्तों की धुन पर नाचना जारी रखते हैं।”

(इस खबर को वायर एजेंसी फीड की मदद से प्रकाशित किया गया है।)