समाचार
महाराष्ट्र राजनीतिक घटनाक्रम- लोकसभा स्थगित, 162 विधायकों की परेड, घोटाला मामला

महाराष्ट्र में चल रहे राजनीतिक घटनाक्रम का प्रभाव राजधानी दिल्ली में संसद तक देखने को मिला जहाँ लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला को कांग्रेस सांसदों और मार्शल के बीच टकराव के कारण सदन स्थगित करना पड़ा।

कांग्रेस के हंगामे के चलते कार्यवाही को कई बार स्थगित करने के बाद दिन भर के लिए सदन स्थगित करना पड़ा। इसपर खेद जताते हुए बिड़ला ने कहा, “मैं हमेशा चाहता हूँ कि सदन चले और बहस होनी चाहिए। लेकिन इस तरह के कृत्य को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।”

वहीं दूसरी ओर महाराष्ट्र में शिवसेना नेता संजय राउत ने दावा किया है कि उनके पास 162 विधायक हैं जिन्हें वे शाम 7 बजे मीडिया के सामने प्रस्तुत करेंगे। “हम सब एक साथ हैं। पहली बार हमारे सभी 162 विधायकों को एक साथ शाम 7 बजे ग्रैंड हयात पर देखें, खुद आकर देखें।”, ट्वीट कर उन्होंने जानकारी दी।

दोपहर में सिंचाई घोटाले के नौ मामलों में अजित पवार को क्लीन चिट मिलने की भी कुछ खबरें आई थीं जिसे फडणवीस को समर्थन देने का प्रतिफल माना जा रहा था। हालाँकि इसे बाद में भ्रष्टाचार-निरोधक ब्यूरो (एसीबी) के सूत्रों ने नकार दिया। उनके अनुसार इनमें से कोई मामला महाराष्ट्र के नए उप-मुख्यमंत्री अजित पवार से जुड़ा हुआ नहीं है।

इससे पहले सुबह सर्वोच्च न्यायालय में शक्ति प्रदर्शन के संबंध में हुई सुनवाई में न्यायालय ने अपना निर्णय सुरक्षित रख लिया है जिसे कल सुबह 10.30 बजे सुनाया जाएगा।