समाचार
“यदि नुकसान नहीं तो प्रतिकार क्यों?”- आलोचकों को वायुसेना प्रमुख धनोआ का जवाब

सोमवार (4 मार्च) को हुई प्रेस वार्ता में एयर चीफ मार्शल बीरेंदर सिंह धनोआ ने बालाकोट पर किए गए हवाई हमले के विषय में कहा कि वायुसेना सिर्फ साधे गए निशानों की गिनती करती है न कि जनहानि की। “हमने योजनानुसार निशाना साधा और यदि कोई नुकसान नहीं हुआ होता तो वे (इमरान खान) प्रतिकार क्यों करते।”, धनोआ के कथन को एएनआई  ने रिपोर्ट किया।

26 फरवरी को जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर किए हवाई हमले पर एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कहा, “हम सिर्फ निशाने देखते हैं कि कितने भेदे गए हैं बाकी जनहानि की गिनती सरकार करेगी”।

विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के वापस लड़ाकू विमान उड़ाने पर भी एयर मार्शल ने कहा कि इस बात का निर्णय उनके स्वास्थ्य चेकअप के बाद किया जाएगा।

“वह (अभिनंदन वर्तमान) फिरसे उड़ान भर पाएँगे या नहीं यह सब उनकी चिकित्सकीय योग्यता पर निर्भर करता है। वह अभी चिकित्स्क जांच के अंदर हैं, जिस भी इलाज की ज़रूरत उन्हें होगी, वह उन्हें दिया जाएगा और अगर सब ठीक रहा तो वह फिरसे लड़ाकू जहाज़ उड़ा पाएंगें।”, एयर मार्शल बीएस धनोआ ने प्रेस वार्ता में कहा।

राफेल पर बात करते हुए धनोआ ने कहा कि राफेल इस साल सितंबर तक उनके पास आ जाएगा और पाकिस्तान के साथ वायु हमले में मिग-21 बाइसन के इस्तेमाल पर उन्होंने कहा कि मिग-21 बाइसन को पहले से उन्नत किया गया है और सभी आधुनिक हत्यारों से मिग-21 बाइसन लैस है।