समाचार
ऑस्ट्रेलिया के साथ भारत का सैन्य बेस के सहयोग समेत सात समझौतों पर हस्ताक्षर

गुरुवार (4 जून) को भारत ने ऑस्ट्रेलिया के साथ एक ऐतिहासिक समझौता करते हुए पारस्परिक सैन्य-तंत्र समर्थन समझौते पर हस्ताक्षर किया। इससे दोनों देश की एक-दूसरे के सैन्य बेस पर वस्तु संबंधित सहायता के लिए पहुँच होगी, टाइम्स ऑफ इंडिया ने रिपोर्ट किया।

साथ ही दोनों देश एक-दूसरे की सैन्य-तंत्र सुविधाओं का लाभ भी उठा पाएँगे। यह समझौता अधिक जटिल संयुक्त सैन्य अभ्यास की अनुमति देने के साथ दोनों देशों के सुरक्षाबलों की अंतर-संचालनीयता बढ़ाएगा।

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ऑस्ट्रेलिया के स्कॉट मॉरिसन के मध्य हुई द्विपक्षीय वर्चुअल बैठक में कुल छह समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए जिनमें से सैन्य-तंत्र समझौता एक है। द्विपक्षीय संबंधों को व्यापक रणनीतिक साझेदारी के रूप में बढ़ाने का निर्णय भी लिया गया।

हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार अन्य समझौतों में सायबर तकनीक के समन्वय, खनन और रणनीतिक खनिजों के प्रसंस्करण में समन्वय और रक्षा विज्ञान में समन्वय जैसे समझौते किए गए। 2+2 विदेश और रक्षा वार्ता को उन्नत करके मंत्री स्तर का किया गया।