समाचार
स्वराज्य पत्रकार द्वारा अवैध कत्लखाने की फोटो पोस्ट किए जाने के बाद कार्यवाही

दो साल पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अवैध कत्लखानों को बंद करने का निर्देश जारी किया था। जैसा कि स्वराज्य ने पहले रिपोर्ट किया है कि इनमें से कई कत्लखाने बंद नहीं किए गए हैं और कुछ बंद होने के बाद पुनः खुल गए हैं।

हाल ही में मंटोला क्षेत्र में सांप्रदायिक विवाद की खोजबीन करने गए स्वराज्य की पत्रकार ने पाया कि टीला नंदग्राम के रहवासी इलाके के मध्य में इस प्रकार का कत्लखाना सक्रिय था। वहाँ के निवासियों का कहना था कि कई शिकायतें दर्ज करवाने के बावजूद कोई कदम नहीं उठाया गया।

लेकिन पत्रकार द्वारा ट्विटर पर फोटो पोस्ट किए जाने के बाद आगरा पुलिस ने कार्यवाही की और सात लोगों- सागीर, मोहम्मद सादिक़, मोहम्मद चांद कुरैशी, इमरान, राजा अली, बाबू और बंटू को गिरफ्तार किया। इसके साथ ही पुलिस के छापे में 3 मारी गई बकरियाँ, एक भेड़ और तीन चाकू मिले हैं।