समाचार
शाहनवाज़ हुसैन ने क़ुरान को लेकर याचिका डालने पर वसीम रिज़वी को लगाई फटकार

भाजपा के वरिष्ठ नेता सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने मंगलवार (16 मार्च) को उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिज़वी को क़ुरान की कुछ आयतों को हटाने के लिए सर्वोच्च न्यायालय का रुख करने पर कड़ी फटकार लगाई है।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज़ हुसैन ने कहा, “हमारी पार्टी उन लोगों के खिलाफ है, जो किसी भी धार्मिक ग्रंथ का अपमान करते हैं। वसीम रिज़वी को इस तरह के कृत्य में लिप्त होकर देश का माहौल खराब नहीं करना चाहिए।”

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने पीटीआई से कहा, “मैंने वसीम रिज़वी की याचिका में क़ुरान से 26 आयतों को हटाने की मांग की कड़े शब्दों में निंदा की है। भाजपा में क़ुरान सहित किसी भी धार्मिक ग्रंथ के बारे में बेतुकी बातें कहना एक अत्यंत निंदनीय कार्य है।”

उन्होंने कहा, “भाजपा क़ुरान या किसी भी अन्य धार्मिक ग्रंथों में किसी तरह के बदलाव के पक्ष में नहीं है। भाजपा रिज़वी के विचारों को स्वीकार नहीं करती है क्योंकि इससे लोगों की भावनाएँ आहत होती हैं।”

बता दें कि राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग (एनसीएम) ने रिज़वी को क़ुरान के खिलाफ दिए गए बयानों के लिए नोटिस जारी किया था। इसमें उन्हें बिना शर्त माफी मांगने और 21 दिनों के भीतर अपनी टिप्पणी वापस लेने को कहा गया था।