समाचार
पाकिस्तान पर पड़ा चौतरफा दबाव, अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराई गई सिख लड़की

पाकिस्तान के ननकाना साहिब से अपहरण की गई सिख लड़की को पंजाब पुलिस ने भारी दबाव के बाद अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ा लिया है। पीड़िता को उसके परिवारीजनों को सौंप दिय गया है।

टाइम्स नाऊ की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले में पाकिस्तान की चौतरफा आलोचना हो रही थी। भारत व सिख समुदाय द्वारा भी लगातार दबाव बनाया जा रहा था। इसके बाद कार्रवाई तेज की गई और पुलिस ने मामले में 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

पीड़िता के भाई ने बताया था, हथियारों के दम पर घर में घुसकर उसकी बहन का अपहरण किया गया था। यही नहीं, आरोपियों ने उसका धर्मांतरण करवाकर निकाह भी एक मुस्लिम युवक से करवा दिया था।” पीड़िता का एक वीडियो सोशल मीडिया पर हुआ था।

पाकिस्‍तान के पंजाब प्रांत में हुई इस घटना को लेकर दुनियाभर के सिख समुदाय ने गुस्सा जताया। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से लड़की को मुक्त करवाने के लिए कहा था। केंद्र सरकार से केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर, अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने पीड़ित परिवार की मदद की मांग की थी।

भारत के विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान से इस मुद्दे पर तुरंत कार्रवाई करने को कहा था। कनाडा से सरदार गुरचरण सिंह ने लाहौर में होने वाले अंतरराष्‍ट्रीय स‍िख सम्‍मेलन का बहिष्‍कार करने की धमकी दी थी। तब जाकर पाकिस्तान सरकार ने दबाव में आकर मामले में कार्रवाई तेज की।