समाचार
सरकार के स्वामित्व वाला भारतीय रेलवे वित्त निगम का आईपीओ 18 जनवरी को खुलेगा

सरकार के स्वामित्व वाली भारतीय रेलवे वित्त निगम (आईआरएफसी) की प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश (आईपीओ) 18 जनवरी को तीन दिनों के लिए खुली रहेगी। आईआरसीटीसी के बाद यह भारतीय रेलवे का एक और बड़ा आईपीओ है।

मनी कंट्रोल की रिपोर्ट के अनुसार, इसका मूल्य स्तर 25 से 26 रुपये प्रति शेयर निर्धारित किया गया है। इसकी एक लॉट में आपको 575 इक्विटी शेयर मिलेंगे।

भारतीय रेलवे की समर्पित बाज़ार उधार सहायक कंपनी आईआरएफसी का लक्ष्य आईपीओ के माध्यम से 4,633.4 करोड़ रुपये जुटाने का है।

यह आईपीओ 178.20 करोड़ रुपये के शेयरों का होगा। इसके तहत 118.80 करोड़ नए शेयर जारी किए जाएँगे। वहीं, सरकार 59.40 करोड़ शेयरों की बिक्री की पेशकश लाएगी।

आईआरएफसी एक सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी है, जिसका स्वामित्व भारतीय रेलवे के माध्यम से भारत सरकार के पास है। यह कंपनी भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के साथ इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस कंपनी की श्रेणी में दर्ज है। यह सार्वजनिक क्षेत्र में एक नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनी (एनबीएफसी) द्वारा पहला आईपीओ होगा।

गत तीन दशकों में आईआरएफसी ने अपनी वार्षिक योजना परिव्यय के अनुपात में वित्त पोषण करके भारतीय रेलवे की क्षमता वृद्धि का समर्थन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।