समाचार
इराक में अपने दूतावास पर हमले उपरांत मध्य-पूर्व में सैनिकों को तैनात करेगा अमेरिका

इराक की राजधानी बगदाद में अमेरिकी दूतावास पर ईरानी समर्थक प्रदर्शनकारियों के हमले के बाद अमेरिका मध्य-पूर्व में 750 सैनिकों को भेजेगा।

अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क ग्रैफ ने मंगलवार (31 दिसंबर) को कहा कि प्रदर्शनकारियों द्वारा अपने दूतावास पर हुए हमले के कुछ घंटे बाद अमेरिका मध्य-पूर्व में सैनिकों को तुरंत तैनात करेगा।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, पेंटागन के प्रमुख द्वारा किए गए एक के बाद एक ट्वीट में लिखा, “लगभग 750 सैनिक तत्काल क्षेत्र में तैनात होंगे और आईआरएफ से अतिरिक्त बल अगले कई दिनों में तैनात करने के लिए तैयार हैं।”

आईआरएफ, 82वीं एयरबोर्न डिवीज़न की तत्काल प्रतिक्रिया बल के संदर्भ में उपयोग किया जाता है।

“यह तैनाती एक उपयुक्त और एहतियाती कार्रवाई है जो अमेरिकी कर्मियों और सुविधाओं के खिलाफ बढ़ते खतरे के स्तर के जवाब में की गई है, जैसे कि आज हमने बगदाद में देखा।”, उन्होंने कहा।

रविवार को इराक में अमेरिकी हमले में मारे गए हाशाद शाबी के सदस्यों के शोक में सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने बगदाद के ग्रीन ज़ोन में अमेरिकी दूतावास पर धावा बोला था जिसके कुछ घंटों बाद पेंटागन का यह निर्णय सामने आया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार सुबह किए गए ट्वीट में दूतावास पर, “हमला करने के लिए”, ईरान को दोषी ठहराया।

(इस समाचार को वायर न्यूज फ़ीड की मदद से प्रकाशित किया गया है।)