समाचार
आतंकवाद पर पाकिस्तान के डोज़ियर को भारत के बाद अफगानिस्तान ने किया अस्वीकार

आतंकवाद प्रायोजित करने वाली बाहरी ताकतों पर पाकिस्तान के तथाकथित डोज़ियर को भारत के बाद अफगानिस्तान ने भी अस्वीकार कर दिया। काबुल ने कहा, “संयुक्त राष्ट्र के नियुक्त प्रतिनिधिमंडल को पाकिस्तान को अपने दावों को सत्यापित करने की अनुमति देनी चाहिए।”

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और मुख्य सैन्य प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने डोज़ियर जारी किया था। इसमें आतंकवादी कृत्यों के लिए भारतीय खुफिया एजेंसियों की भागीदारी की बात कही थी। साथ ही दावा किया था कि देश के खिलाफ आतंकी हमलों के लिए अफगान क्षेत्र का उपयोग किया जा रहा है।”

अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा, “पाकिस्तान के आरोपों को हम खारिज करते हैं। आतंकवाद के प्रमुख शिकार के रूप में अफगानिस्तान दुनियाभर में, बिना किसी भेदभाव के सभी प्रकार के आतंकवाद का मुकाबला करने की नीति के लिए प्रतिबद्ध है। कभी भी अन्य देशों के खिलाफ विनाशकारी गतिविधियों के लिए अफगान क्षेत्र का उपयोग नहीं किया जाएगा।”

अफगानिस्तान इस सप्ताह पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की आगवानी की तैयारी कर रहा है। विदेश मंत्रालय ने कहा, “यह उम्मीद की गई थी कि पाकिस्तान द्विपक्षीय हितों और मौजूदा द्विपक्षीय सहयोग तंत्र के माध्यम से बहस के मुद्दों को उठाएगा।”

बता दें कि भारत ने रविवार को पाकिस्तान के उस डोज़ियर को खारिज कर दिया, जिसमें भारत पर आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगा था। भारत ने कहा, पाकिस्तान भ्रामक प्रचार कर रहा है। दुनिया को पता है कि आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान की क्या भूमिका है।”