समाचार
जमात-उद-दावा ने पाकिस्तान में 26/11 मुंबई हमले के आतंकियों के लिए की प्रार्थना सभा

संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकवादी घोषित हाफिज़ सईद के नेतृत्व में कट्टरपंथी इस्लामवादी संगठन जमात-उद-दावा (जेयूडी) ने गुरुवार (26 नवंबर) को पाकिस्तान में पंजाब के साहिवाल शहर में मुंबई में हुए 26/11 हमले के 12 साल पूरे होने पर एक कार्यक्रम की योजना बनाई।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, समूह ने अपने कैडरों से कहा कि वे उन 10 आतंकवादियों के लिए विशेष प्रार्थना का आयोजन करें, जिन्होंने आतंकवादी हमलों को अंजाम दिया था।

यह गौर किया जाना चाहिए कि जमात-उद-दावा पाकिस्तान स्थित लश्कर-ए-तैयबा का राजनीतिक मोर्चा है, जो 2008 में मुंबई में कई स्थानों को निशाना बनाने वाले हमलों के लिए जिम्मेदार था। इस हमले में 170 लोग मारे गए थे।

खुफिया सूत्रों के अनुसार रिपोर्ट में कहा गया है कि सभी लश्कर और जमात-उद-दावा के सदस्यों ने मस्जिदों में विशेष प्रार्थना सभाएँ आयोजित कीं। इसमें लश्कर के उन नौ आतंकवादियों को याद किया गया, जिन्हें सुरक्षा बलों ने अजमल कसाब के साथ मौत के घाट उतार दिया था।

इसके अलावा, जमात-उद-दावा ने जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी गतिविधियों का समर्थन करने के अपने मुख्य लक्ष्य के साथ जेके यूनाइटेड यूथ मूवमेंट नामक एक राजनीतिक मंच शुरू किया है। रिपोर्ट में कहा गया कि मुख्य परिचालन कमांडर और लश्कर के जिहाद विंग के प्रमुख जकी-उर-रहमान लखवी ने हाल ही में जिहाद के लिए धन एकत्र करने के संबंध में हाफिज़ सईद से मुलाकात की थी।