समाचार
दुष्कर्म के आरोपी महाराष्ट्र के मंत्री धनंजय मुंडे पर कार्रवाई का निर्णय लेंगे शरद पवार

दुष्कर्म के आरोप का सामना कर रहे नेता धनंजय मुंडे ने गुरुवार (14 जनवरी) को एनसीपी प्रमुख शरद पवार से भेंट की। शरद पवार ने कहा, “मुंडे पर लगे आरोप संगीन हैं। पार्टी उन पर कार्रवाई का जल्द निर्णय लेगी। उन्होंने मुझसे भेंट की और अपने ऊपर लगे आरोपों के बारे में बताया है।”

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, शरद पवार ने आगे कहा, “उन्होंने स्वीकारा है कि उनका एक महिला के साथ संबंध था और उसने ही बाद में दुष्कर्म के आरोप लगा दिए। उसके खिलाफ एक शिकायत दर्ज की गई थी। उन्हें आरोप का अंदाजा था इसलिए उन्होंने उच्च न्यायालय से संपर्क किया था।”

धनंजय मुंडे ने कहा, “आरोपों को लेकर मैंने शरद पवार और पार्टी के समक्ष अपनी सफाई पेश की है। अब जो निर्णय लिया जाएगा, वह मुझे स्वीकार होगा।” एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिका ने कहा, “महिला ने मामला दर्ज करवा दिया है इसलिए पार्टी जाँच होने तक प्रतीक्षा करेगी, उसके बाद निर्णय लेगी।”

एनसीपी नेता के खिलाफ यौन उत्पीड़न और दुष्कर्म के आरोप में ओशिवारा थाने में मामला दर्ज हुआ है। मुंडे ने कहा, “मैं महिला की बड़ी बहन के साथ 2003 से आपसी सहमति से संबंध में था। इस बाबत मेरे परिवार को भी पता है। महिला से दो बच्चे पैदा हुए, जिनको मैंने अपना नाम दिया। मैं उनकी ज़िम्मेदारी भी उठा रहा हूँ। अब मुझे धमकाया जा रहा है।”

उधर, भाजपा ने चुनाव आयोग में शिकायत की कि एनसीपी नेता ने खुद स्वीकारा है कि उनकी सहमति से विवाहेतर संबंध था और दो बच्चे भी हुए थे। उन्होंने दो पत्नियों की बात स्वीकारी है पर उन्होंने चुनाव आयोग को यह जानकारी नहीं दी थी।