समाचार
आतिशी मार्लेना सहित 19 को कर नोटिस भेजा गया, आप ने भाजपा को बताया लिंग-भेदी

आम आदमी पार्टी (आप) की नेता और विधायक आतिशी मार्लेना ने अपने 2020 के चुनावी हलफनामे और गत 10 वर्षों के आयकर (आईटी) रिटर्न भरने में संपत्ति और देन-दारियों के बीच कथित असंतुलन दर्शाया। इसके बाद आईटी विभाग ने उन्हें एक कर नोटिस जारी किया।

दि इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, कर नोटिस की फटकार के बाद आतिशी मार्लेना ने 30 जून को संवाददाताओं को बताया कि आयकर विभाग उन्हें डराने और धमकाने की कोशिश कर रहा है। हालाँकि, गौर करने वाली बात यह है कि आईटी विभाग ने 19 ऐसे लोगों को नोटिस जारी किए हैं, जिनमें भाजपा के सदस्य भी सम्मिलित हैं।

साथ ही यह भी ध्यान देना चाहिए कि आप ने कहा कि आतिशी मार्लेना को कर नोटिस जारी करना हास्यास्पद है। यह भाजपा के लिंग-भेदी और कट्टरवादी चेहरे को दर्शाता है। पार्टी ने यह बात तब कही, जब कुल 19 लोगों में से सिर्फ चार महिलाएँ ही इसमें सम्मिलित हैं, जिनके विरुद्ध आयकर विभाग ने इस तरह का नोटिस जारी किया है। उनमें से एक मार्लेना हैं।

आयकर विभाग का कहना है कि आतिशी ने गत 10 वर्षों में अपने आईटी रिटर्न में जो विवरण साझा किया है, वह उनके चुनावी हलफनामे में दिए गए विवरण से कम है।