समाचार
कन्हैया कुमार पर देशद्रोह का मुकदमा चलाने की आप सरकार ने नहीं दी मंजूरी

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार ने दिल्ली पुलिस को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (जेएनयूएसयू) के अध्यक्ष कन्हैया कुमार के खिलाफ देशद्रोह के मामले में मुकदमा चलाने की अपनी स्वीकृति न देने का निर्णय किया है। अब इस मामले में राजनीति गर्माने की आशंका है क्योंकि भाजपा इस निर्णय के पक्ष में नहीं है।

द हिंदू की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले में दिल्ली के गृह मंत्री सत्येंद्र जैन ने किसी भी अभियोजन और जाँच से इनकार करने का निर्णय लिया है। यह कहा गया है कि कन्हैया कुमार के खिलाफ राजद्रोह का मामला रिकॉर्ड पर मौजूद सबूतों के अनुसार उचित नहीं है।

फरवरी-2016 में जेएनयू के परिसर में आतंकी अफजल गुरु की फांसी की बरसी पर हुए एक कार्यक्रम में कथित रूप से राष्ट्र विरोधी नारे लगाने के कारण कन्हैया कुमार और अन्य के खिलाफ देशद्रोह का आरोप लगाया गया था।

बता दें कि जनवरी 2019 में इस मामले में दिल्ली पुलिस ने अदालत में चार्जशीट दाखिल की थी। अदालत ने दिल्ली पुलिस को फटकार लगाते हुए कहा था, “देशद्रोह के आरोपों पर दिल्ली सरकार की मंजूरी क्यों नहीं ली गई?” इसके बाद दिल्ली पुलिस ने दिल्ली सरकार से देशद्रोह का मुकदमा चलाने की अनुमति मांगी थी।