समाचार
मोदी-शाह जोड़ी को हराने के लिए हरियाणा में कांग्रेस का साथ चाहते हैं केजरीवाल
Arvind Kejriwal

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के लाख चाहने पर भी कांग्रेस ने आप (आम आदमी पार्टी) के साथ दिल्ली की लोकसभा सीटों के लिए गठबंधन के लिए मना करने के बाद, अब अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सामने हरियाणा में आगामी लोकसभा चुनाव साथ लड़ने का प्रस्ताव रखा है, अमर उजाला  ने रिपोर्ट किया।

केजरीवाल ने कहा, “मैं राहुल गांधी के सामने हरियाणा में दुष्यंत चौटाला की पार्टी जननायक जनता पार्टी (जजपा)-आप-कांग्रेस का गठबंधन बनाने का प्रस्ताव रखता हूँ, ताकि हम हरियाणा में भाजपा को सभी 10 से हरा पाएँ”। साथ ही उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर इस गठबंधन से मोदी-शाह जोड़ी को हराने में मदद मिलेगी। केजरीवाल ने दिल्ली की लोकसभा सीटों पर कहा कि वह दिल्ली में अकेले ही चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे।

दोनों दलों की गरमा-गर्मी 

आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वह पूर्ण राज्य के दर्जे के लिए अपनी जान भी देने के लिए तैयार है और साथ ही भाजपा पर हमला बोलते हुए केजरीवाल ने भाजपा के घोषणा पत्र को आग लगा दी। दूसरी तरफ भाजपा विजय गोयल ने यह कहते हुए आप के घोषणा पत्र को लगा दी कि “जो केजरीवाल ने वादे किए थे वह पूरे नहीं किए गए”।