समाचार
तबलीगी जमात में शामिल 960 विदेशियों को प्रतिबंधित कर काली सूची में डाला गया

दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए तबलीगी जमात की मरकज के बाद देश में कोरोनावायरस के मामले तेजी से बढ़ गए हैं। धार्मिक सभा में शामिल लोगों में से 400 वायरस से संक्रमित पाए गए थे। इसको देखते हुए गृह मंत्रालय ने तबलीगी गतिविधियों में शामिल हुए करीब 960 विदेशियों को प्रतिबंधित कर काली सूची में डाल दिया है।

न्यूज 18 की रिपोर्ट के अनुसार, गृह मंत्रालय की ओर से गुरुवार को जारी बयान में कहा गया कि तबलीगी गतिविधियों में लिप्त पाए जाने के कारण 960 विदेशियों को प्रतिबंधित कर दिया गया है। साथ ही उनका भारतीय वीजा भी रद्द कर दिया गया है।

इससे पूर्व, गृह मंत्रालय की ओर से बताया गया था कि करीब 900 तबलीगी कार्यकर्ताओं और उनके साथ रहने वाले लोगों से संपर्क किया जा रहा है। उन सभी को पृथक केंद्रों में भेजा जा रहा है। इसमें 1306 विदेशी नागरिक हैं।

केंद्रीय गृह मंत्रालय में संयुक्त सचिव पुण्य सलिल श्रीवास्तव ने बताया, “तबलीगी जमात के ऐसे करीब 2000 सदस्यों में से 1804 को पृथक केंद्रों में भेज दिया गया है। वहीं संक्रमित पाए जाने वाले 334 सदस्यों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।”

गृह मंत्रालय ने राज्यों और केंद्रशासित क्षेत्रों के साथ मिलकर पुरजोर प्रयास किया। तबलीगी जमात के सदस्यों और उनके संपर्क में आए करीब 9000 लोगों की पहचान कर उन्हें पृथक किया है। इनमें से 1306 लोग विदेशी हैं।