समाचार
कानपुर के एक क्षेत्र में ‘लव जिहाद’ के पाँच मामले, बजरंग दल ने कहा “अड्डा”

उत्तर प्रदेश के कानपुर में ‘लव जिहाद’ के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं। शहर के एक क्षेत्र के पाँच मामले सामने आए हैं, जिसके सभी आरोपित उसी जगह के रहने वाले हैं। बजरंग दल का आरोप है कि उक्त कॉलोनी लव जिहाद का नया अड्डा बन गई है।

दैनिक जागरण ने दावा किया है कि कानपुर से गत दो माह में घर से भागी युवतियों के जो दस्तावेज़ मिले हैं, उसमें सभी आरोपितों के संबंध जूही लाल कॉलोनी से हैं। सूत्रों का कहना है कि पुलिस जाँच करे तो इस वर्ष विभिन्न थानों में ऐसे 12 से अधिक मामले निकलकर सामने आएँगे। वहाँ पर ‘लव जिहाद’ के बाकायदा प्रशिक्षण कैंप चल रहे हैं।

बर्रा-6 की जयचंद यादव की बेटी शालिनी 29 जून को परीक्षा देने निकली थी। वह दस लाख रुपये भी ले गई। गुरुवार को फेसबुक में एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें शालिनी ने कहा कि उसने धर्म परिवर्तन कर अपना नाम फिज़ा रख लिया और फैसल से निकाह कर लिया। आरोपित फैसल लाल कॉलोनी का रहने वाला है।

इसी तरह कल्याणपुर थाने में मामला दर्ज हुआ, जिसमें दो सगी बहनों को बहला-फुसलाकर शाहरुख के बेटे कमाल और खलील भगा ले गए। वे भी जूही लाल कॉलोनी के ही हैं। तीसरा मामला पनकी का है, जहाँ युवती और उसकी छोटी बहन को लाल कॉलोनी के मोहम्मद मोसीन ने प्रेम में फंसाया। हालाँकि, छोटी बहन के सतर्क होने के बाद मामला खुल गया।

इस पूरे मामले में आईजी मोहित अग्रवाल ने कहा, “एक क्षेत्र से इतने मामले निकल सामने आए हैं तो यह गंभीर विषय है। इसकी जाँच के लिए पाँच सदस्यीय टीम गठित की जाएगी, जो असलियत सामने लाएगी।”