समाचार
जम्मू-कश्मीर में सेना के जवानों के लिए भेजी गईं 40,000 स्वदेशी बुलेटप्रूफ जैकेट

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ जुटे सैनिकों को 40,000 बुलेटप्रूफ जैकेट्स जल्द दी जाएँगी। इन्हें कानपुर स्थित सेंट्रल ऑर्डिनेंस डिपो पहुँचाया गया है। वहाँ से जल्द ही इन्हें जम्मू-कश्मीर भेजा जाएगा। अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय सेना को पहली बार देश में बनी जैकेट्स भेजी गई हैं।

जैकेट बनाने वाली कंपनी एसएमपीपी प्राइवेट लिमिटेड की तरफ से मेजर जनरल अनिल ओबेरॉय ने बताया, “समय से पहले सेना को पूरा ऑर्डर उपलब्ध करवा दिया जाएगा। सरकार ने कंपनी को 2021 तक का समय दिया है पर कंपनी 2020 के आखिरी तक ही इन्हें उपलब्ध करवा देगी।”

उन्होंने बताया, “कंपनी को पहली खेप में 36,000 जैकेट्स उपलब्ध करवानी थी पर उसने लक्ष्य से 4000 अधिक की आपूर्ति की। यह जैकट हार्ड स्टील से बनीं गोलियाँ भी झेल सकती है।”

इनको बोरॉन कार्बाइड सेरेमिक से तैयार किया गया है, जो कि सुरक्षा के लिए सबसे हल्का और बेहतरीन है। यह जवानों को 360 डिग्री सुरक्षा देगी। मॉड्यूलर पार्ट्स से बनी होने की वजह से यह काफी लचीली और पहनने में सुविधाजनक है।

बता दें कि पिछले साल रक्षा मंत्रालय ने सेना को आधुनिक और हल्की बुलेटप्रूफ जैकेट्स मुहैया कराने के लिए एसएमपीपी के साथ 639 करोड़ रुपये का सौदा किया था। इस सौदे के तहत सेना को 1.86 लाख उच्च स्तरीय जैकेट्स प्रदान की जानी है।