समाचार
अनुच्छेद 370 हटाने के बाद पहली बार कश्मीर दौरे पर जाएँगे यूरोपीय संघ के 28 सांंसद

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल से मुलाकात के बाद यूरोपीय संघ के 28 सांसदों की टीम मंगलवार (29 अक्टूबर) को कश्मीर जाएगी। अंतराष्ट्रीय प्रतिनिधि-मंडल राज्य में अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटाए जाने के बाद पहली बार दौरा करने जा रहा है।

इंडिया टुडे  की रिपोर्ट के अनुसार, यूरोपीय संघ के इस प्रतिनिधि-मंडल ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी भेंट की। प्रधानमंत्री से मिलने के बाद प्रतिनिधि-मंडल ने एनएसए से कश्मीर की जमीनी स्थिति के बारे में जानकारी ली।

प्रतिनिधि-मंडल की यह यात्रा राज्य में 5-6 अगस्त को अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद पहली बार किसी संसदीय प्रतिनिधियों की यात्रा है।

घाटी में विदेशी प्रतिनिधि-मंडल की इस यात्रा को सुविधाजनक बनाने के लिए सरकार ने सभी तैयारियाँ पूरी कर ली है। माना जा रहा है कि प्रतिनिधि-मंडल की इस यात्रा के बाद से कश्मीर पर फैलाए गए भ्रम खत्म होंगे, जिसमें कश्मीर की स्थिति समान्य नहीं बताई जा रही थी।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, कई सांसद वहाँ के स्थानीय लोगों से बातचीत कर स्थिति समझना चाहते हैं। यूरोपीय संसद के सदस्य बीएन डुन्न ने कहा, “हम कल जम्मू कश्मीर जा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने हमें कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बारे में सारी बातें बताई, लेकिन मैं इसे सतही तौर पर देखना चाहता हूँ, साथ ही कुछ स्थानीय लोगों से बात करना चाहता हूँ। हम सबकी चाहत है कि सब शांति से रहे और हालात सामान्य रहें।”