समाचार
नोकिया सहित 25 कंपनियों का ₹12,195 करोड़ की पीएलआई योजना के लिए आवेदन

दूरसंचार उपकरण विनिर्माण विस्तार के लिए सरकार की 12,195 करोड़ रुपये की उत्पादन संबंधित प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना को अच्छी प्रतिक्रिया मिली है। करीब 25 भारतीय और विदेशी कंपनियों ने इसका लाभ उठाने के लिए आवेदन किया है।

लाइवमिंट की रिपोर्ट के अनुसार, योजना के तहत एक निवेशक को प्रतिबद्ध निवेश से 20 गुना अधिक तक वृद्धि संबंधित बिक्री के लिए प्रोत्साहन मिल सकता है। इससे उन्हें वैश्विक स्तरों पर पहुँचने, अपनी व्यर्थ पड़ी क्षमता का उपयोग करने और उत्पादन में वृद्धि करने में सहायता मिलेगी।

नोकिया, एचएफसीएल, कोरल टेलीकॉम उन कंपनियों में सम्मिलित हैं, जिन्होंने इस योजना में भागीदारी के लिए पहले ही आवेदन कर दिया है। वहीं, तेजस नेटवर्क्स, डिक्सन टेक्नोलॉजीज़ और देश के स्वामित्व वाली आईटीआई लिमिटेड सहित सभी पीएलआई योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया में हैं।

इस योजना से 3,000 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश आने और सरकार के लिए करीब 17,000 करोड़ रुपये का कर राजस्व उत्पन्न होने की अपेक्षा है। सरकार को अपेक्षा है कि यह योजना 2.44 लाख करोड़ रुपये के उपकरणों के उत्पादन को प्रोत्साहित करेगी, जिसमें पाँच वर्ष की अवधि में करीब दो लाख करोड़ रुपये का निर्यात होगा।