समाचार
कांग्रेस के 24 विधायकों ने भाजपा पर षड्यंत्र रच गहलोत सरकार गिराने का आरोप लगाया

राजस्थान में कांग्रेस के करीब 24 से अधिक नेताओं ने भाजपा पर विधायकों की खरीद-फरोख्त करके अशोक गहलोत सरकार को गिराने की साजिश रचने का आरोप लगाया है। उनका यह संयुक्त बयान शुक्रवार (10 जुलाई) देर रात विधानसभा में मुख्य सचेतक डॉ. महेश जोशी और उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी के हस्ताक्षरों से जारी किया गया।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, कांग्रेस ने अपने बयान में इसे भाजपा का कथित अलोकतांत्रिक और भ्रष्ट आचरण करार दिया है और कहा कि वह भ्रष्ट हथकंडों के ज़रिए सरकार गिराने की षड्यंत्र रच रही है।

बयान में कहा गया, “हमारे पास पुख्ता जानकारी है कि भाजपा की शीर्ष कमान इसमें शामिल है। वह कांग्रेस के नेताओं से संपर्क कर रहे हैं और उन्हें भ्रमित करने की कोशिश कर रहे हैं। राज्य में कांग्रेस और उसे समर्थन देने वाले सभी विधायक इस तरह के प्रयासों को सफल नहीं होने देंगे।”

यह बयान तब सामने आया, जब राजस्थान पुलिस के विशेष कार्यबल एसओजी ने विधायकों की खरीद-फरोख्त और निर्वाचित सरकार को अस्थिर करने के आरोपों में शुक्रवार को एक मामला दर्ज किया था।

बता दें कि राजस्थान विधानसभा में कुल 200 विधायकों में से कांग्रेस के पास 107 और भाजपा के पास 72 विधायक हैं। राज्य में 13 में से 12 निर्दलीय विधायकों का राज्य सरकार को समर्थन है।