समाचार
श्रीनगर के नवाकदल में हिजबुल के शीर्ष कमांडर समेत दो आतंकी ढेर, तीन जवान घायल

श्रीनगर के नवाकदल क्षेत्र में हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने हिजबुल मुजाहिद्दीन के शीर्ष कमांडर जुनैद सेराई समेत दो आतंकियों को मार गिराया। मंगलवार तड़के आतंकियों के साथ मुठभेड़ शुरू होने के बाद जम्मू-कश्मीर के दो पुलिसकर्मी और सीआरपीएफ का एक जवान भी घायल हो गए।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, जुनैद हुर्रियत प्रमुख मोहम्मद अशरफ खान का बेटा था। आतंकियों के बारे में खुफिया जानकारी मिलने के बाद सोमवार देर रात को ही घेराबंदी शुरू कर दी गई थी। सुरक्षाबलों ने कनामजार में उनके ठिकानों का घेराव किया।

यह देखते हुए आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। आईजी कश्मीर विजय कुमार ने तड़के तीन बजे के करीब मुठभेड़ शुरू होने की पुष्टि की। पुलिस की ओर से आतंकियों के मारे जाने की भी पुष्टि कर दी गई है।

जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजीपी ने बताया, “नवाकदल मुठभेड़ में श्रीनगर का जुनैद सेहराई और पुलवामा का तारिक अहमद शेख दोनों मारे गए। वह हिजबुल का कमांडर था, जिसकी लंबे समय से तलाश थी।” मुठभेड़ शुरू होने के बाद बीएसएनएल को छोड़कर अन्य मोबाइल सेवाओं की इंटरनेट सुविधा बंद कर दी गई।

जुनैद मार्च 2018 से गुम था। उसकी बंदूक लिए एक तस्वीर वायरल हुई थी। यह पहला मामला था, जब जम्मू-कश्मीर के किसी अलगाववादी नेता का बेटा आतंकी संगठन में शरीक हुआ था।