समाचार
जम्मू-कश्मीर के सांबा में सीमा पर बीएसएफ को मिली पाकिस्तान निकलने वाली लंबी सुरंग

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने फिर पाकिस्तान की साजिश को नाकाम करते हुए जम्मू-कश्मीर में सीमा पर आतंकियों के घुसपैठ के लिए बनाई गई सुरंग का पता लगाया है। यह जिला सांबा में सीमा के साथ बनाई गई है। सुरंग पड़ोसी देश में शुरू होती है और सांबा में खत्म होती है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, जम्मू बीएसएफ आईजी एनएस जम्वाल ने बताया, “तलाशी अभियान में जवानों को सुरंग मिली। इसका पता लगाने के लिए विशेष टीम गठित की गई है। सुरंग जीरो लाइन से करीब 150 गज लंबी है। सुरंग के मुँह को बजरी के बैग से बंद किया गया था। इसके मुँह की गोलाई तीन से चार फीट है।”

सुरंग के मुँह को छिपाने के लिए जिस बजरी बैग का उपयोग किया गया था, उस पर कराची के शकरगढ़ में स्थित सीमेंट फैक्ट्री का नाम लिखा है। यह सुरंग जिला सांबा के गलर गाँव में मिली है। यह सुरंग जिस जगह निकलती है, वह अंतरराष्ट्रीय सीमा से भारतीय सीमा की ओर लगभग 170 मीटर दूर है।

बीएसएफ आईजी ने कहा, “बजरी वाले बैग पर कराची का नाम लिखा होना यह दर्शाता है कि सुरंग बनाने के पीछे पाकिस्तान का हाथ है। इसे इंजीनियरिंग प्रयासों के साथ बनाया गया है। इससे लगता है कि पाकिस्तानी रेंजर्स सहित अन्य एजेंसियाँ इसमें शामिल रही होंगी।”