समाचार
एफएटीएफ ने पाकिस्तान पर दागे 150 प्रश्न, उत्तर न दे पाने पर जा सकता है काली सूची में

आतंक के वित्तपोषण पर नज़र रखने वाला फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) इस्लामिक रिपबल्कि ऑफ़ पाकिस्तान की कार्रवाई से असंतुष्ट है। इसने पाकिस्तान से सफाई मांगने के लिए 150 प्रश्न दागे हैं, इकोनॉमिक टाइम्स  ने रिपोर्ट किया।

फरवरी 2020 में संभवतः पाकिस्तान ग्रे सूची से काली सूची में जा सकता है यदि वह एफएटीएफ के 27 बिंदु एजेंडा का पालन नहीं करता है।मात्र पाँच बिंदुओं पर ही काम करने के कारण इसे एफएटीएफ ने चेतावनी दी थी।

अन्य 22 बिंदुओं की रिपोर्ट पाकिस्तान ने  को 6 दिसंबर को सौंपी थी जिसकी प्रतिक्रिया में अब इससे और 150 प्रश्नों पर उत्तर मांगे गए हैं। एफएटीएफ के कई प्रश्न प्रतिबंधित संगठनों से संबंधित मदरसों पर हैं।

8 जनवरी तक पाकिस्तान को इन प्रश्नों का उत्तर देना होगा। बीजिंग में 21-24 जनवरी को एफएटीएफ की अगली बैठक होनी है जहाँ पाकिस्तान को अपना बचाव करना होगा।