समाचार
पेंटागन- “11 इराक स्थित अमेरिकी सैनिक ईरान के मिसाइल हमले में घायल हुए थे”
आईएएनएस - 17th January 2020

इराक स्थित दो अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर 8 जनवरी को ईरानी मिसाइल हमले में 11 अमेरिकी सैनिक घायल हो गए थे, यह खुलासा शुक्रवार (17 जनवरी) को हुआ। पेंटागन ने शुरू में कहा था कि कोई भी सेवा सदस्य चोटिल नहीं हुआ था।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने अमेरिकी सेंट्रल कमांड, पेंटागन के प्रवक्ता कैप्टन बिल अर्बन के हवाले से बताया, “अल असद हवाई अड्डे पर 8 जनवरी को हुए ईरानी हमले में अमेरिका के किसी भी सदस्य की मौत नहीं हुई थी, लेकिन कई सैनिकों को विस्फोट में चोट लगी थी।  उनका देखभाल की जा रही है।”

8 जनवरी को ईरान ने आयान अल असद और एरबिल में अमेरिकी सेना और गठबंधन कर्मियों के इराक में स्थित दो सैन्य ठिकानों पर सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइलों को दागा था। हमला 3 जनवरी को बगदाद हवाई अड्डे के पास अमेरिकी ड्रोन हमले में ईरानी मेजर जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या के प्रतिशोध में था।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, आठ लोगों को जर्मनी भेजा गया और तीन को आगे की जाँच के लिए कुवैत भेज दिया गया।

सीएनएन ने यह भी बताया कि एक गुप्त अमेरिकी रक्षा अधिकारी ने दावा किया कि घायल सैनिकों में लक्षण “घटना के कुछ बाद दिन” सामने आए।

वर्तमान में, इस्लामिक स्टेट आतंकवादी समूह के खिलाफ लड़ाई में इराकी सेनाओं का समर्थन करने के लिए 5,000 से अधिक अमेरिकी सैनिक इराक में तैनात हैं।

मिसाइल हमले के तुरंत बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट किया था, “सब कुछ ठीक है”, “अभी तक हमारे पास दुनिया की सबसे शक्तिशाली और अच्छी तरह से सुसज्जित सेना है।”

ईरान ने सुलेमानी की मौत का “गंभीर बदला” लेने का प्रण लिया था।

(इस समाचार को वायर एजेंसी फीड की सहायता से प्रकाशित किया गया है।)