समाचार
भारत और चीन के बीच 10वें दौर की वार्ता शुरू, तीन स्थानों से सेना वापसी पर चर्चा संभव

भारत और चीन के सैन्य अधिकारियों के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर तनाव खत्म करने के लिए 10वें दौर की वार्ता शनिवार (20 फरवरी) को शुरू हो गई है। इसमें गोगरा, हॉट स्प्रिंग और देप्सांग में सेना वापसी को लेकर चर्चा हो सकती है। यह बैठक चीन की मॉल्डो सीमा बिंदु में हो रही है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, बैठक सुबह 10 बजे ही शुरू हो गई। भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व लेफ्टिनेंट जनरल पीजीके मेनन कर रहे हैं, जो लेह स्थित 14वीं कोर के कमांडर हैं। चीनी पक्ष का नेतृ्त्व मेजर जनरल लिउ लिन कर रहे हैं, जो दक्षिणी शिनजियांग सैन्य जिले के कमांडर हैं ।

बता दें कि नौवें दौर की बैठक में क्षेत्र वापसी के समझौते पर सहमति बनी थी। यह वार्ता एक माह पूर्व हुई थी। इसके बाद दोनों देशों की सेना अपने-अपने पोस्ट तक पहुँच गए हैं। पूर्वी लद्दाख के पैंगोंग झील से चीनी सेना पीछे हटने लगी है। बीते दिनों जारी फोटो और वीडियो में चीनी सेना अपना सामान लेकर लौटती दिखी है।

इतना ही नहीं चीनी सेना ने इन क्षेत्रों में अपने बंकर तोड़ डाले। साथ ही टेंट, तोप और गाड़ियाँ भी हटा ली हैं। करीब 10 महीने से पड़ोसी देश की सेना ने यहाँ कब्जा कर रखा था ।