समाचार
नवजोत सिंह सिद्धू ने वीडियो जारी कर कहा, “दागियों की वापसी कतई स्वीकार्य नहीं”

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद को त्यागने के बाद बुधवार (29 सितंबर) को नवजोत सिंह सिद्धू ने एक वीडियो जारी कर अपना बयान दिया। उन्होंने कहा कि वह सच की लड़ाई लड़ते रहेंगे और दागियों को वापसी स्वीकार नहीं करेंगे।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, नवजोत सिंह सिद्धू ने ट्विटर पर 4.39 मिनट का वीडियो पोस्ट किया। इसमें उन्होंने कहा, “मेरा किसी से व्यक्तिगत द्वेष नहीं है। मेरे राजनीतिक करियर के 17 वर्ष एक उद्देश्य के लिए रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “पंजाब के लोगों के जीवन में परिवर्तन लाना, मजबूती से अपने निर्णय पर अडिग रहना और जनता के जीवन को बेहतर बनाना मेरा धर्म है। मैं अपनी नैतिकता, नैतिक अधिकार से समझौता नहीं कर सकता। मुझे जो दिखाई दे रहा, वह पंजाब के मुद्दों के साथ समझौता है। यहाँ दागी नेताओं व अधिकारियों की व्यवस्था थी। अब आप पुनः उसी प्रणाली को दोहरा नहीं सकते हैं।”

सिद्धू ने आगे कहा, “मैं अपने सिद्धांतों पर अडिग रहूँगा। मेरी लड़ाई मुद्दों को लेकर है। मेरे पिता ने मुझे हमेशा सिखाया कि यदि दो मार्ग हों तो हमेशा सच का साथ देना। मैं न हाईकमान को गुमराह कर सकता हूँ और ना स्वयं को। मैं पंजाब के नागरिकों के बेहतर जीवन के लिए किसी भी चीज़ की कुर्बानी दूँगा।”

अंत में उन्होंने कहा, “मैं पुरानी भ्रष्ट प्रणाली को पुनः लाने का विरोध करता हूँ। जिन लोगों ने मांओं की गोदें सूनी की हैं, उन्हें पहरेदार नहीं बनाया जा सकता है।”

बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू के प्रदेश अध्यक्ष का पद त्यागने के बाद मंत्री व कई नेताओं ने भी अपने पदों को त्याग दिया था। पंजाब कांग्रेस के कई नेता बुधवार को सिद्धू के पटियाला स्थित आवास पर उनसे मिलने भी पहुँचे थे।