समाचार
नवजोत सिंह सिद्धू ने अब मुख्यमंत्री चरणजीत के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधा

पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह के बाद अब रविवार (3 अक्टूबर) को ट्वीट करके मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार नशे पर रोक लगाने व अशिष्टता के मामलों पर कार्रवाई करने में विफल रही है। अब वही चीजें पुनः दोहराई जा रही हैं।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, नवजोत सिंह सिद्धू ने साफ कर दिया कि कार्यकारी डीजीपी इकबाल प्रीत सहोता और एजी एपीएस देओल को उनके पद से हटाने से कम उन्हें कुछ भी स्वीकार नहीं है। उन्होंने ट्वीट संग एक वीडियो भी साझा किया। उसमें उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा पर सवाल उठाया, जिनके पास गृह विभाग भी है।

सिद्धू ने ट्वीट किया, “अशिष्टता के मामलों में न्याय दिलाने और मादक पदार्थों के व्यापार के मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी के आश्वासन के साथ 2017 में हमारी सरकार आई थी लेकिन असफलता की वजह से मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को हटा दिया गया था। अब पुनः एजी व डीजीपी की नियुक्तियाँ पीड़ितों के घावों पर नमक छिड़कती हैं। उन्हें बदलना चाहिए। यदि ऐसा नहीं हुआ तो हम जनता को चेहरा दिखाने के लायक नहीं रहेंगे।”

बता दें कि नाराज़गी के पश्चात अशिष्टता के मामलों की न्यायालय में पैरवी के लिए विशेष अभियोजक की नियुक्ति की जा चुकी है। हालाँकि, जिस तरह सिद्धू ने इस मामले को पुनः उठाया है, उससे साफ है कि वे इससे बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं हैं।