समाचार
नवजोत सिंह सिद्धू ने छोड़ा पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद , कहा- “समझौता स्वीकार्य नहीं”

पंजाब कांग्रेस में कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुख्यमंत्री पद को त्यागने के उपरांत भी विवाद थम नहीं रहा है। अब मंगलवार (28 सितंबर) को नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने प्रदेश अध्यक्ष पद को छोड़कर सभी को आश्चर्य में डाल दिया है।

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना त्याग-पत्र भेज दिया। उन्होंने पत्र में लिखा, “किसी भी व्यक्ति के व्यक्तित्व में गिरावट समझौते से शुरू होती है। मैं पंजाब के भविष्य को लेकर कोई समझौता नहीं कर सकता हूँ। इस वजह से अपना पद त्याग रहा हूँ।”

उधर, अमरिंदर सिंह ने भी सिद्धू पर हमला करते हुए लिखा, “मैंने आपसे कहा था… वे स्थिर व्यक्ति नहीं हैं और सीमावर्ती राज्य पंजाब के लिए बिल्कुल भी उपयुक्त नहीं हैं।”

यह कदम आश्चर्यचकित करने वाला है क्योंकि उनसे विवाद की वजह से कांग्रेस के आलाकमान ने पंजाब के मुख्यमंत्री पद से कैप्टन अमरिंदर को हटने पर विवश कर दिया था। इससे पहले उन्हें प्रदेश अध्यक्ष की बड़ी ज़िम्मेदारी सौंपी गई थी।

कहा जा रहा है कि हाल ही में मुख्यमंत्री बने चरणजीत सिंह चन्नी ने जिस प्रकार से कैबिनेट विस्तार किया, उससे नवजोत सिंह सिद्धू प्रसन्न नहीं थे। यही नहीं, जिस तरह के चित्र सामने आए थे, उस पर भी काफी विवाद हुआ था। चित्रों में नवजोत सिंह सिद्धू मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का हाथ पकड़े हुए थे।