समाचार
नासा के परसीवरेन्स रोवर ने पहले मंगल ग्रह की चट्टान के नमूने का संग्रह पूरा किया

अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा के परसीवरेन्स रोवर ने मंगलवार (7 सितंबर) को मंगल ग्रह की चट्टान के पहले नमूने का संग्रह पूरा कर लिया। जेज़ेरो क्रेटर का एक कोर पेंसिल से थोड़ा मोटा है।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने एक बयान में कहा कि दक्षिणी कैलिफोर्निया में नासा की जेट प्रणोदन प्रयोगशाला (जीपीएल) में अभियान नियंत्रकों को ऐतिहासिक डाटा मिले हैं।

अगस्त की शुरुआत में अपने पहले प्रयास में विफल होने के बाद परसीवरेन्स रोवर ने 1 सितंबर को अपने दूसरे प्रयास में चट्टान के नमूने को पुनः प्राप्त किया। परसीवरेन्स ने अपनी 2 मीटर लंबी रोबोटिक भुजा का उपयोग करके मंगल ग्रह पर एक छेद किया लेकिन यह अपने पहले प्रयास में अपेक्षा के अनुसार नमूने एकत्र व संग्रहीत नहीं कर सका था। एक वायुरोधी टाइटेनियम नमूना ट्यूब में कोर अब संलग्न है।

मंगल नमूना वापसी अभियान के माध्यम से नासा और ईएसए (यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी) निकट अध्ययन के लिए रोवर के नमूना ट्यूबों को पृथ्वी पर लाने हेतु भविष्य के मिशनों की एक शृंखला की योजना बना रहे हैं। अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि ये नमूने वैज्ञानिक रूप से पहचाने गए और दूसरे ग्रह से हमारे ग्रह पर लौटने वाली चयनित सामग्रियों का पहला सेट होंगे।

इसके बाद के नासा मिशन ईएसए के सहयोग से सतह से इन सीलबंद नमूनों को एकत्र करने के लिए मंगल ग्रह पर अंतरिक्ष यान भेजेंगे और गहन विश्लेषण के लिए उन्हें पृथ्वी पर वापस भेज देंगे।

कैलटेक के परसीवरेन्स परियोजना वैज्ञानिक केन फार्ले ने कहा, “जब हम इन नमूनों को पृथ्वी पर वापस लाते हैं तो वे हमें मंगल के विकास के कुछ शुरुआती अध्यायों के बारे में बहुत कुछ बताते हैं। जेज़ेरो क्रेटर का पता लगाने को हम आने वाले महीनों और वर्षों में अपनी यात्रा जारी रखेंगे।”