समाचार
नासा ने बृहस्पति के चंद्रमा यूरोपा की जाँच करने के लिए स्पेसएक्स को चयनित किया

नासा ने अरबपति तकनीकी उद्यमी इलॉन मस्क के नेतृत्व वाले स्पेसएक्स का चयन बृहस्पति के चंद्रमा यूरोपा, जिसमें तरल महासागर हैं, जो जीवन का ठिकाना बन सकते हैं, की जाँच शुरू करने के लिए किया है।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, नासा ने अक्टूबर 2024 में एक फाल्कन हेवी रॉकेट पर सवार होकर फ्लोरिडा स्थित कैनेडी स्पेस सेंटर से यूरोपा क्लिपर मिशन को लॉन्च करने के लिए स्पेसएक्स के साथ 17.8 करोड़ डॉलर का अनुबंध किया है। बृहस्पति के बर्फीले चंद्रमा में जीवन के लिए उपयुक्त स्थितियाँ उपलब्ध हैं या नहीं, इसकी जाँच के लिए रॉकेट अपने साथ विज्ञान उपकरणों का एक परिष्कृत सूट ले जाएगा।

यह अभियान बृहस्पति के चंद्रमा का विस्तृत सर्वेक्षण करेगा और जाँचेगा कि क्या इसमें जीवन के लिए उपयुक्त स्थितियाँ हैं। यूरोपा क्लिपर के पेलोड में कैमरे और स्पेक्ट्रोमीटर लगे होंगे, जो सतह और वातावरण के उच्च-रिज़ॉल्यूशन की छवियों और रचनात्मक मानचित्रों को लेने के लिए होंगे।

पेलोड में नीचे तरल पानी की खोज के लिए सतह की बर्फीली परत को भेदने को एक रडार भी शामिल होगा।

यह गौर किया जाना चाहिए कि इस लंबी यात्रा में पाँच वर्ष से अधिक समय लगने की संभावना है क्योंकि बृहस्पति का चंद्रमा यूरोपा पृथ्वी से करीब 39 करोड़ मील या 63 करोड़ किलोमीटर दूर है।